WhatsApp Group Join Now
WhatsApp Group Join Now
व्यापार

Soyabean Bhav: किसानो के लिए खुशखबरी ! सोयाबीन के भाव में तेजी आई, जाने आज का ताजा भाव  

Agro Rajasthan Desk New Delhi: पिछले दो वर्ष से सोयाबीन की खेती करने वाले किसान लगभग मायूस हो गए हैं। इन्हीं किसानों के लिए अब सोयाबीन के भविष्य को लेकर अच्छी उम्मीद वाली खबर आई है। सोयाबीन के भाव अब धीरे-धीरे बढ़ने लगे हैं। सोयाबीन के उत्पादन में कमी के साथ स्टॉक में कमी दर्ज हुई है। वहीं दूसरी ओर अब सोयाबीन की मांग में वृद्धि हो रही है।

यूएसडीए ने अपनी रिपोर्ट में चीन की मांग में 30 लाख टन की वृद्धि बताई गई। इधर दूसरी ओर सोयाबीन के स्टॉक में भी कमी आ गई है। विश्व में 17.6 लाख टन स्टॉक में कमी देखी जा रही है। उत्पादन में गिरावट एवं स्टॉक में कमी से निकट भविष्य में सोयाबीन के भाव Soyabean bhav बढ़ने की संभावना बढ़ गई है। आईए जानते हैं सोयाबीन के भाव को लेकर पूरी जानकारी..

मंडी में सोयाबीन की आवक बड़ी

सोयाबीन के भावों Soyabean bhav में तेजी आ गई। नीमच तरफ के सोया प्लांट ने 4800 खरीदी भाव ऑफर की खबर रही। मंडी में सौ रुपए से अधिक की तेजी भी आ सकती है। किसानों को 5000 रुपए भाव की संभावना है। देशभर में सवा दो लाख बोरी सोयाबीन की आवक की खबर है। पोर्ट पर सोयाबीन की कमी व अर्जेंटीना में कटाई दो हफ्ते बाद शुरू होगी। जिसके कारण देश की सोया खली में तेजी आई है। क्रूड ऑयल भी तेज बताया गया है।

व्यापारिक धारणा कि भारत में नई सोयाबीन की उपज को आधा साल होने से भाव में कभी भी तेजी आ सकती है, इस इंतजार से ही किसानों ने सोयाबीन को होल्ड कर रखा है। Soyabean bhav व्यापारीयों की मानें तो तेजी के भाव स्थाई रूप से आए तो स्टॉक वाले और किसान बेचने आने लगेंगे। हालांकि 100 से 200 रुपए की तेजी गिरते भाव को रोकने का सपोर्ट माना जा सकता है।

सोयाबीन के वर्तमान भाव

किसानों के लिए पीला सोना कहीं जाने वाली सोयाबीन की फसल पिछले 2 साल से लगातार घाटा दे रही है, इसका प्रमुख कारण यह है की लागत में लगातार वृद्धि होती रही और इसकी तुलना में सोयाबीन के भाव लगातार कम होते गए। 

वर्तमान मंडी भाव को देखें तो इस समय सोयाबीन के भाव समर्थन मूल्य से भी काम हो गए हैं अर्थात सोयाबीन मंडी में 4800 रुपए प्रति क्विंटल से नीचे के दाम पर बिक रही है। इधर दूसरी ओर किसानो एवं व्यापारियों के पास काफी मात्रा में सोयाबीन का स्टाक जमा है।

किसानों के लिए यह है अच्छी खबर

सोयाबीन के भाव Soyabean bhav बढ़ने की राह देखते देखते किसान अब निराश होने लगे थे। विश्लेषक भी सोयाबीन के भाव को लेकर कोई स्थिति स्पष्ट करने की स्थिति में अब तक नजर नहीं आए हैं। किंतु इस बीच किसानों एवं सोयाबीन के भाव बढ़ने की राह देख रहे व्यापारियों के लिए अच्छी खबर है।

दरअसल, सोयाबीन के उत्पादन में वैश्विक स्तर पर कमी आई है, वहीं स्टॉक भी काम हुआ है। इसके कारण निकट भविष्य में सोयाबीन के भाव एक बार फिर ऊंचे होंगे। ज्ञात होगी सोयाबीन के स्टॉक एवं पैदावार को लेकर अलग-अलग एजेंसियां रिपोर्ट जारी करती है, इन्हीं रिपोर्टों के आधार पर विशेषज्ञ मान रहे है कि सोयाबीन के भाव में फिर से बढ़ोतरी होगी।

सोयाबीन में बड़ी तेजी के आसार कम

सोयाबीन के भाव Soyabean bhav में पिछले सप्ताह हल्की-सी सुधार आने के बाद स्थिरता आ गई है। ब्राजील में उत्पादन कमजोर होने के साथ-साथ अमेरिका में सोयाबीन की बोवनी नए सीजन में कुछ मात्रा में घट सकती है। इन संभावनाओं की वजह से बाजार में कुछ सुधार आया है। ब्राजील और अर्जेंटीना में बड़ी मात्रा में उत्पादन होने के अंदाज के चलते किसान वर्ग लंबे समय तक स्टॉक रोककर नहीं रख सकते हैं।

अतः लंबी तेजी के आसार कम नजर आ रहे हैं। व्यापारियों का कहना है कि आने वाले छह-सात दिनों में सोयाबीन में लंबी तेजी का अनुमान कम है। प्लांटों की मजबूत लेवाली निकलने से पिछले सप्ताह सोयाबीन के दामों में अच्छी खासी तेजी आ चुकी है।

सोयाबीन का भाव बढ़ने की यह है प्रमुख वजह

बंदरगाहों पर जो आमतौर पर आठ-दस लाख टन खाद्य तेलों का स्टाक Soyabean bhav रहा करता था वह फिलहाल कम हो चला है। खाद्य तेल कंपनियों के पास भी जो स्टाक होता था, वह काफी कम है।

यानी पाइपलाइन लगभग खाली है। शादी-विवाह और नवरात्र की खाद्य तेलों की मांग आगे बढ़ेगी। मलेशिया के खाद्य तेलों का निर्यात लगभग 20.53 प्रतिशत बढ़ा है। इस बढ़त का कारण कई देशों में बायोडीजल बनाने के लिए खाद्य तेलों का इस्तेमाल किया जाना है। यही कारण है कि सोयाबीन के भाव में तेजी आना शुरू हो गई है।

वैश्विक के स्तर पर भी स्टॉक में कमी आई

Soyabean bhav मार्च अप्रैल में शादी ब्याह का सीजन शुरू हो जाता है। इस सीजन के दौरान सोया तेल की डिमांड बढ़ने लगती है। जबकि दूसरी ओर जानकारों का कहना है कि मार्च के अंत में विश्व में सोया तेल का स्टॉक 6.2 प्रतिशत घटकर 5.01 मिलियन टन रहना बताया गया।

अमेरिका में सोया तेल स्टॉक अथवा अनुमान में कोई बदलाव नहीं किया गया है। मार्च माह के अंत में अर्जेंटीना में सोया तेल का स्टॉक 14.7 प्रतिशत घटकर 0.29 मिलियन टन रह गया। मार्च माह में सोया मील के स्टॉक में 1.7 प्रतिशत की गिरावट का अनुमान लगाया गया। रिपोर्ट में भारत से सोया मील का निर्यात अनुमान 12 लाख टन से बढ़ाकर 14 लाख टन कर दिया।

दूसरी और भारत में सोया मील Soyabean bhav का अंतिम स्टॉक 25.9 प्रतिशत घटकर 02 मिलियन टन रह जाने का अनुमान व्यक्त किया गया। मार्च के अंत में ब्राजील का सोया तेल स्टाक भी 10 फीसद गिरकर 0.36 मिलियन टन पर आ जाएगा। अर्जेंटीना और ब्राजील में कम स्टाक के चलते, यूएसडीए की रिपोर्ट सोया तेल के लिए सकारात्मक प्रतीत होती है।

5 दिन में सोयाबीन 200-300 रुपए तेज हुआ

सोयाबीन 5 दिन में 200 से 300 रुपए भाव Soyabean bhav में बढ़ गया। फॉरेन मार्केट तेज आने से भाव वृद्धि बताई जा रही है। तेल पर आयात ड्यूटी और वायदा व्यापार शुरू करने के अनुरोध पर सरकारी तौर पर स्थिति साफ नहीं है। अगर ड्यूटी लगी तो 5800 से 6000 रुपए के भाव पर भी सोयाबीन बिक सकता है।

अगर ड्यूटी नहीं लगी तो भाव का लेवल 5200-5300 रुपए का आ जाए तो कोई बड़ी बात नहीं होगी। कृषि विशेषज्ञों का कहना है कि अगर किसान को उपज की वास्तविक कीमत देना तो अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर इसकी मार्केटिंग कर वैल्यू बढ़ाई जाना जरूरी है। वायदा सट्टा किसानों को वास्तविक भाव देने की अपेक्षा लाभ-हानि की ओर ले जाता है।

सोयाबीन के भाव की आगे क्या स्थिति रहेगी

प्रमुख सोयाबीन Soyabean bhav विश्लेषकों का मानना है कि निकट भविष्य में सोयाबीन के बाजार में तेजी आएगी। विशेषज्ञों की राय है कि सोयाबीन के भाव अप्रैल माह के अंत में बढ़ना शुरू हो जाएंगे। विश्लेषकों का कहना है कि इसके संकेत अभी से मिलना शुरू हो गए हैं 

सोयाबीन प्लांट के भाव में बढ़ोतरी हो गई है। यूएसडीएनए मार्च माह के प्रथम सप्ताह में सोयाबीन की विस्तृत रिपोर्ट जारी की है। इस रिपोर्ट में सोयाबीन उत्पादक प्रमुख देश ब्राजील में उत्पादन अनुमान में 10 लाख टन की कटौती की है।

रिपोर्ट में ब्राजील में सोयाबीन उत्पादन का अनुमान 156 से घटाकर 155 मिलियन टन कर दिया गया है, जबकि जानकारों का अनुमान 152.28 मिलियन टन का था। दूसरी और अर्जेंटीना में फसल 50 मिलियन पर अपरिवर्तित रखी है, जबकि जानकारों के अनुमान 50.23 मिलियन टन लगाया था।

Soyabean bhav विश्व में सोयाबीन का स्टॉक 1.5 प्रतिशत घटकर 114.27 मिलियन टन होने का अनुमान रहा। यूएसडीए की रिपोर्ट के पश्चात विश्लेषक अनुमान बता रहे हैं कि आने वाले दिनों में भी सोयाबीन के भाव में तेजी आएगी।

प्लांटों की सोयाबीन में खरीदी भाव

Soyabean bhav एबीआयएस 4725 अडाणी 4775 अग्रवाल सोया 4800 अवी एग्री 4700 बंसल 4725 बैतूल सतना 4825 बैतूल 4800 कोरोनेशन 4715 धानुका 4815 धीरेंद्र 4800 दिव्य ज्योति 4750 पचोर 4735 हरिओम 4820 केएन एग्री 4690 लाभांशी 4775 आयडिया 4725 केपी सॉल्वेक्स 4750 खंडवा 4750 लिविंग फूड 4750 मित्तल 4750 एमएस सॉल्वेक्स 4800

नीमच प्रोटीन 4825 पतंजलि फूड 4680 राम जानकी 4725 आरएच सॉल्वेक्स 4800 सिंहल न्यूट्रिशन्स 4800 सांवरिया 4675 महेश 4725 सोनिक 4725 सालासर 4775 स्नेहिल 4750 सतना सॉल्वेंट 4691 स्कायलार्क 4700 सूर्या 4800 वर्धमान कालापीपल 4675 विप्पी 4700 रुपए। धुले दिसान एग्रो 4700 मोल 4650 ओमश्री 4700 संजय सोया 4675 नागपुर एबीआयएस 4675 गोयल प्रोटिन्स 4675 पतांजलि 4670 श्यामकला 4675 स्नेहा 4700 तान्या 4750 कोटा- अडाणी 5500 गोयल 5425 महेश 5050 सुयुग 4811 रुपए प्रति क्विंटल रहे।

एमपी की प्रमुख मंडियों में सोयाबीन के भाव

इंदौर – 2800 से 4680 रुपए प्रति क्विंटल।

उज्जैन – 2200 से 5145 रुपए प्रति क्विंटल।
नीमच – 3650 से 4780 रुपए प्रति क्विंटल।
रतलाम – 2850 से 4721 रुपए प्रति क्विंटल।
देवास – 1302 से 4700 रुपए प्रति क्विंटल।
मंदसौर – 4300 से 4721 रुपए प्रति क्विंटल।
हरदा – 3200 से 4540 रुपए प्रति क्विंटल।
बेतुल – 3500 से 4501 रुपए प्रति क्विंटल।
धामनोद – 4225 से 4245 रुपए प्रति क्विंटल।
धार – 2914 से 4700 रुपए प्रति क्विंटल।
खरगोन – 4151 से 4496 रुपए प्रति क्विंटल।
खंडवा – 3801 से 4576 रुपए प्रति क्विंटल।
आष्टा – 2000 से 4800 रुपए प्रति क्विंटल।
गुना – 4090 से 4550 रुपए प्रति क्विंटल।
बदनावर – 3675 से 4800 रुपए प्रति क्विंटल।
बडनगर – 3122 से 4820 रुपए प्रति क्विंटल।
शाजापुर – 3400 से 4615 रुपए प्रति क्विंटल।
छिंदवाडा – 4175 से 4340 रुपए प्रति क्विंटल।
कुरावर – 4000 से 4600 रुपए प्रति क्विंटल।
कुक्षी – 4195 से 4395 रुपए प्रति क्विंटल।
राजगढ़ – 2951 से 4561 रुपए प्रति क्विंटल।

Alpesh Khokhar

🚀 Founder of JaneRajasthan 🌟 Passionate about Culture & Rural Development 🌾 Bringing you the latest updates in the world of Rajasthan 🌿 Committed to sustainable growth and community empowerment 📍 Based in the heart of Rajasthan, India 🇮🇳

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button